Categories: खास खबर

जेसन गिलेस्पी ने किया खुलासा, किस तरह इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेलने से बदल गए इशांत शर्मा और चेतेश्वर पुजारा

Cheteshwar Pujara and Ishant Sharma
Image Source : GETTY IMAGES

मुंबई| ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज जेसन गिलेस्पी इंग्लिश काउंटी में अपनी कोचिंग में खेलने वाले भारत के इशांत शर्मा की सीखने की ललक को देखकर काफी प्रभावित हुए थे और वह मानते हैं कि चेतेश्वर पुजारा को कांउटी में खेलकर काफी अनुभव मिला। इशांत काउंटी में खेलने से पहले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खुद को साबित कर चुके थे। अभी तक 97 टेस्ट में 297 विकेट चटका चुका यह भारतीय 2018 में ससेक्स काउंटी के लिये खेला था तब गिलेस्पी उस टीम के कोच थे।

गिलेस्पी ने ‘काउ कार्नर क्रानिकल्स’ चैट शो में कहा, ‘‘आपको पता है कि इशांत की किस चीज ने सचमुच मुझे प्रभावित किया, वह थी उसकी नयी जानकारी हासिल करने की ललक, दूसरों को सुनने की इच्छा, सवाल पूछना, नयी चीजों को आजमाना। क्योंकि कभी कभार जब आप सीनियर और अनुभवी खिलाड़ी बन जाते हो तो आप अपनी ही तरह की चीजें करते हो। ’’ बल्कि पिछले प्रथम श्रेणी सत्र के दौरान इशांत ने भी स्वीकार किया था कि हर कोई उनकी समस्या के बारे में बात कर रहा था लेकिन वो गिलेस्पी ही थे जिन्होंने उन्हें हल प्रदान किया था।

यह भी पढ़ें : सलामी बल्लेबाज फाफ डुप्लेसिस ने बताया आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की सफलता का राज

गिलेस्पी ने कहा, ‘‘खिलाड़ी जानते हैं कि उन्हें क्या करना है और यह ठीक है। लेकिन इशांत जानता था कि उसे अच्छी गेंदबाजी करनी है। वह यह भी जानता था कि वह बेहतर गेंदबाज बनना चाहता था। ’’ भारत ने 2018 में उस सत्र में इंग्लैंड का दौरा किया था और गिलेस्पी को लगता है कि इशांत को इस अनुभव का फायदा मिला। उन्होंने यह भी कहा कि इशांत ने ससेक्स की ओर से खेलते हुए अन्य खिलाड़ियों को भी प्रभावित किया। गिलेस्पी एक अन्य भारतीय टेस्ट विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा के साथ काम कर चुके है, जिन्हें उन्होंने यार्कशर की काउंटी टीम में कोचिंग दी थी। उन्होंने पुजारा की भी काफी तारीफ की।

Related Post

उन्होंने कहा, ‘‘यार्कशर में पुजारा हमारी टीम में थे और मैं तब वहां मुख्य कोच था। हमें शीर्ष तीन में एक बल्लेबाज की जरूरत थी जो चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में हमारे लिये अच्छा खेले और अच्छी गेंदबाजी के खिलाफ डटा रहे। ’’

यह भी पढ़ें- इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी केविन पिटरसन ने धोनी को बताया अब तक का सर्वश्रेष्ठ कप्तान

पुजारा के 2015 में यार्कशर की ओर से खेलने के बारे में बात करते हुए गिलेस्पी ने कहा, ‘‘पुजारा उस स्थान के लिये बिलकुल फिट रहा। उसने इसे चुनौती के तौर पर लिया और इंग्लिश हालात में ड्यूक गेंद के खिलाफ चुनौती बतौर खिलाड़ी उसके लिये अच्छी परीक्षा रही। यह उसके लिये अच्छा अनुभव रहा। ’’ गिलेस्पी को लगता है कि काउंटी क्रिकेट में खेलने से पुजारा को काफी मदद मिली।

Share
Team TWS

Recent Posts

पूर्व भारतीय कोच गैरी कर्स्टन ने किया खुलासा, साल 2007 में ही संन्यास लेना चाहते थे सचिन

Sachin Tendulkar Image Source : GETTY IMAGES भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन ने भारत के साथ अपने…

4 महीना ago

नए फॉर्मेट के साथ दक्षिण अफ्रीका में होगी क्रिकेट की वापसी, डिविलियर्स बनेंगे कप्तान

नए फॉर्मेट के साथ दक्षिण अफ्रीका में होगी क्रिकेट की वापसी, डिविलियर्स बनेंगे कप्तान Image Source : GETTY क्रिकेट दक्षिण…

4 महीना ago

अनुराग कश्यप ने की कोविड-19 के बाद के दौर में शूटिंग पर बात

अनुराग कश्यप Image Source : INSTAGRAM/ANURAGKASHYAP10 फिल्मकार अनुराग कश्यप को लगता है कि शूटिंग एक ऑर्गेनिक प्रोसेस है और इंडस्ट्री…

4 महीना ago

सुशांत के निधन के बाद कृति सेनन ने किया एक और पोस्ट, निगेटिव कमेंट्स करने वालों पर हुईं नाराज

सुशांत के निधन के बाद कृति सेनन ने किया एक और पोस्ट Image Source : INSTAGRAM- KRITI SANON मुंबई: सुशांत…

4 महीना ago

भारतीय सैनिकों के मारे जाने के विरोध में चीनी दूतावास के पास पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन

भारतीय सैनिकों के मारे जाने के विरोध में चीनी दूतावास के पास पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन Image Source : SOCIAL…

4 महीना ago

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से की बात: सूत्र

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से की बात: सूत्र Image Source : PTI (FILE) नई दिल्ली:…

4 महीना ago