Categories: खास खबर

एक शख्स ने पूरे शहर को बना दिया हॉटस्पॉट, नागपुर के अब्दुल ने बीमारी छिपाई, 200 की जान पर बन आई

coronavirus in nagpur

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से लड़ाई पूरा देश, सरकार, आप और हम सभी लड़ रहे हैं लेकिन इस लड़ाई में हर रोज नए खलनायक सामने आ रहे हैं। इस लड़ाई में महाराष्ट्र के नागपुर से एक ऐसा खलनायक सामने आया है जिसकी वजह से संतरे के शहर में हर ओर दहशत है। दुबई से लौटे एक शख्स के चलते शहर के कम से कम 44 लोग कोरोना वायरस के जानवेला जबड़े में फंस गए हैं जबकि 144 लोगों की रिपोर्ट का अभी इंतजार है। सोचकर देखिए इनमें से आधे लोग भी अगर संक्रमित पाए गए तो एक शख्स की लापरवाही से पता नहीं कितने लोगों की जान खतरे में होगी।

5 अप्रैल को 68 साल के अब्दुल लतीफ की मौत हो गई लेकिन अपने परिवार और रिश्तेदार और पड़ोसियों को वो मुफ्त में कोरोना बांट गए। एक व्यक्ति के जरिए सिर्फ पूरे परिवार को ही कोरोना नहीं हुआ है, रिश्तेदारों और पूरे मोहल्ले को कोरोना हो गया। अब्दुल लतीफ का परिवार बहुत बड़ा है। पहले अब्दुल के बेटे को कोरोना हुआ, उससे पहली बहू को इन्फेक्शन फैला। बहू से उसके भाई और भाभी को भी कोरोना हो गया। अब्दुल लतीफ की तीन बेटियों को भी इन्फेक्शन हुआ। सोचिए कैसा चेन रिएक्शन हुआ कि दूसरी बेटी की दो बेटियों और एक बेटे को भी ये बीमारी लग गई। पूरे परिवार में अब तक 26 लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।

Related Post

कुल मिलाकर एक अब्दुल लतीफ की वजह से पूरा कुनबा जानलेवा वायरस का शिकार हो गया। अब्दुल लतीफ तीन अप्रैल को अस्पताल पहुंचे थे, टीबी के मरीज थे लेकिन मौत के बाद जब कोरोना टेस्ट हुआ तो वो पॉजिटिव निकले। इसके बाद जांच शुरू हुई तो पता चला दुबई से लौटे थे और उन्होंने इसकी जानकारी किसी को नहीं दी थी। पूछताछ शुरू हुई तो पता चला कि अब्दुल लतीफ 19 ऐसे लोगों के लगातार संपर्क में थे जिनकी नागपुर में दुकानें हैं।

नागपुर म्युनिसिपरल कॉर्पोरेशन ने सबसे पहले हार्डवेयर शॉप के दस लोगों की पहचान की जिसके बाद सबकी जांच हो रही है। उसके बाद जिस जांच घर में अब्दुल लतीफ जांच कराने गए थे, वहां जांच हुई तो एक नर्स कोरोना पॉजिटिव मिली। अब नर्स के संपर्क में कितने लोग आए उनकी जांच हो रही है। अच्छी बात सिर्फ ये है कि किराना स्टोर और मेडिकल स्टोर के कर्मचारियों की जांच हुई तो पता चला रिपोर्ट निगेटिव हैं। अब्दुल लतीफ के संपर्क में एक दो नहीं नागपुर के दो दर्जन से ज्यादा परिवार आए हैं। दूध वाले, अखबार वाले, मिठाई वाले, किराना वाले, दवाई वाले सबको ढूंढा जा रहा है और इनमें से सिर्फ और सिर्फ 200 लोगों तक ही जांच अधिकारी पहुंचे हैं।

अब तक परिवार के 89 लोगों का सैंपल लिया गया, 42 पॉजेटिव मिले हैं, 36 लोगों की रिपोर्ट आने वाली है। परिवार से बाहर 110 लोगों का सैंपल लिया गया, दो पॉजिटिव मिले हैं जबकि 108 लोगों की रिपोर्ट आज आ सकती है। यानी एक शख्स के चलते 199 लोगों का टेस्ट हुआ है, 44 लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए और 144 लोग अभी टेंशन में हैं।

Share
Team TWS

Recent Posts

पूर्व भारतीय कोच गैरी कर्स्टन ने किया खुलासा, साल 2007 में ही संन्यास लेना चाहते थे सचिन

Sachin Tendulkar Image Source : GETTY IMAGES भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन ने भारत के साथ अपने…

4 महीना ago

नए फॉर्मेट के साथ दक्षिण अफ्रीका में होगी क्रिकेट की वापसी, डिविलियर्स बनेंगे कप्तान

नए फॉर्मेट के साथ दक्षिण अफ्रीका में होगी क्रिकेट की वापसी, डिविलियर्स बनेंगे कप्तान Image Source : GETTY क्रिकेट दक्षिण…

4 महीना ago

अनुराग कश्यप ने की कोविड-19 के बाद के दौर में शूटिंग पर बात

अनुराग कश्यप Image Source : INSTAGRAM/ANURAGKASHYAP10 फिल्मकार अनुराग कश्यप को लगता है कि शूटिंग एक ऑर्गेनिक प्रोसेस है और इंडस्ट्री…

4 महीना ago

सुशांत के निधन के बाद कृति सेनन ने किया एक और पोस्ट, निगेटिव कमेंट्स करने वालों पर हुईं नाराज

सुशांत के निधन के बाद कृति सेनन ने किया एक और पोस्ट Image Source : INSTAGRAM- KRITI SANON मुंबई: सुशांत…

4 महीना ago

भारतीय सैनिकों के मारे जाने के विरोध में चीनी दूतावास के पास पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन

भारतीय सैनिकों के मारे जाने के विरोध में चीनी दूतावास के पास पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन Image Source : SOCIAL…

4 महीना ago

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से की बात: सूत्र

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से की बात: सूत्र Image Source : PTI (FILE) नई दिल्ली:…

4 महीना ago